कब्‍ज की समस्‍या से हैं परेशान तो न करें ये काम, इन आसान उपायों से पाएं राहत

Share Now To Friends!!

आज की बदलती लाइफस्‍टाइल में कब्‍ज (Constipation) की समस्‍या आम है. इससे कितने ही लोग परेशान रहते हैं. दरअसल, कब्ज तब होता है जब पाचन तंत्र (Digestive System) खराब हो जाता है. ऐसे में पाचन खराब होने की वजह से व्यक्ति जो कुछ खाता है, वह पच नहीं पाता. आगे चल कर यह समस्‍या कई बीमारियों का कारण भी बन सकती है. ऐसे में जरूरी है कि इसे दूर करने के उपाय किए जाएं. जिन लोगों के आहार (Diet) में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, उनमें कब्ज की समस्या का जोखिम कम रहता है. इसलिए अपने आहार पर भी पूरा ध्‍यान दें. कब्‍ज की समस्‍या है तो कुछ कामों से दूरी बना लें और कुछ बदलाव जरूर करें.

प्रोसेस्ड और जंक फूड्स
कब्‍ज से परेशान लोगों को प्रोसेस्ड फूड से बचना चाहिए. इनमें चीनी और सोडियम अधिक मात्रा में होता है. इसलिए प्रोसेस्ड और जंक फूड्स से दूरी बना लें. इससे कब्ज की समस्‍या बढ़ सकती है.

छोड़ें खाने के बाद आराम की आदतअगर आप रात का खाना खाकर फौरन बिस्‍तर पकड़ लेते हैं तो यह आदत आपकी कब्‍ज की समस्‍या को बढ़ा सकती है. इसकी बजाय कुछ देर टहलने की आदत डालें.

ये भी पढ़ें – किताबें पढ़ने की आदत रखेगी स्‍ट्रेस फ्री, आएगी अच्‍छी नींद

फाइबर को न लेना
कई बार हम जो डाइट लेते हैं वह हमारी सेहत के अनुकूल नहीं होती. जैसे अगर आपको कब्‍ज की समस्‍या है तो आपको अपनी डाइट में फाइबर वाली चीजें जरूर शामिल करनी चाहिए, ताकि आप जो खाते हैं वह अच्‍छी तरह पच जाए.

कब्ज दूर करने के घरेलू उपाय

– गर्म पानी में नींबू और कैस्टर ऑयल मिलाकर पीने से कब्‍ज में राहत मिलती है.

-सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू मिलाकर पिएं.

-रात को सोने से पहले गर्म दूध में कैस्टर ऑयल मिलाकर पिएं.

– कब्‍ज है तो सुबह गुनगुने पानी में नींबू और काला नमक मिलाकर पिएं.

– कब्‍ज को दूर करने के लिए आप अंजीर को दूध के साथ ले सकते हैं. इसके इस्तेमाल से कब्‍ज में राहत मिलेगी.

-पर्याप्‍त पानी जरूर पिएं. यानी शरीर में पानी की कमी न होने दें.

-फाइबर वाली चीजें अपनी डाइट में शामिल करें. इसके लिए आप मौसमी फल और सब्जियां ले सकते हैं. इनमें फाइबर की उच्‍च मात्रा होती है.

ये भी पढ़ें – टूथब्रश चुनते समय बरतें सावधानी, काम आएंगे ये 5 टिप्स

-अपने रूटीन में एक्सरसाइज, योग को जरूर शामिल करें. इससे ब्‍लड सर्कुलेशन सही ढंग से होगा और पाचन भी दुरुस्‍त होगा. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Source link


Share Now To Friends!!

Leave a Comment