कोरोना की तेज लहर में बिना मास्क घूमता था शख्स, लोगों ने पकड़कर सिखाया ऐसा सबक

Share Now To Friends!!

मास्क न लगाने की वजह से सख्स पर पड़ी मुसीबत. (Photo Credit- Benjamin Glynn / SWNS)

मास्क के बिना घर से बाहर निकलने (Travelling Without Mask) को अपना स्टाइल मानने वाले इस शख्स (Benjamin Glynn) पर ऐसी मुसीबत (Punishment for not Wearing Mask) पड़ी है कि वो अपना सर पीट रहा है. न तो उसकी नौकरी रही और न ही वो अपने घर वापस जा पा रहा है.

आपने भी कई लोगों के मुंह से ये सुना होगा कि मास्क-वास्क से कुछ नहीं होता. कुछ लोग ऐसे भी होंगे जो मास्क न लगाने (Travelling Without Mask) में ही अपनी मर्दानगी मानते होंगे. ऐसा ही कुछ हाल ब्रिटेन (Britain) के एक शख्स का भी था. वो कभी भी मास्क (Not Wearing Mask) नहीं लगाता है और इस बात पर खुशी भी ज़ाहिर करता था कि उसे इससे कभी परेशानी नहीं हुई. फिर एक दिन उसे कुछ यूं परेशानी हुई कि उसे जिंदगी भर के लिए एक सबक मिल गया.

39 साल के बेंजामिन ग्लिन (Benjamin Glynn) मूल रूप से ब्रिटेन के रहने वाले हैं. उन्होंने कोरोना (Coronavirus) की तेज़ से तेज़ लहर में भी कभी मास्क से अपने चेहरे को नहीं ढका. उन्हें सौभाग्य से कभी इसके लिए कहीं फंसना नहीं पड़ा था. वे इस बात को लेकर खुश तो थे, लेकिन एक दिन उनकी इस तरह दूसरों को भी रिस्क में डालने की आदत महंगी पड़ गई. उनकी शिकायत सबूत समेत लोगों ने की और फिर जो हुआ, उसके बारे में बेंजामिन (Benjamin Glynn) ने नहीं सोचा था.

सिंगापोर में मिल गया सबक

दरअसल बेंजामिन ग्लिन एक ब्रिटिश कंपनी की ओर से ही डेपुटेशन पर सिंगापोर (Singapore) भेजे गए थे. यहां भी उन्होंने अपनी मास्क न लगाने की आदत जारी रखी. इसी बीच किसी शख्स ने सार्वजनिक वाहन (Public Transport) में जाते वक्त बिना मास्क का उनका वीडियो बनाकर पुलिस को दे दिया. फिर क्या था यॉर्कशायर के रहने वाले बेंजामिन को पुलिस उनके घर से ही उठा ले गई. उस वक्त उनकी पत्नी और बच्चे अंदर सो रहे थे. उन पर सार्वजनिक जगहों (Travelling on Public Place Without Mask) पर लोगों को रिस्क में डालने का आरोप लगा है. इस जुर्म में उन्हें 6 महीने की जेल भी हो सकती है.ये भी पढ़ें- 123 दिनों से हथकड़ी में बंधा था कपल, टॉयलेट भी जाते थे साथ, लॉक टूटते ही प्यार का हुआ ऐसा अंजाम 

वतन लौटने से कुछ हफ्ते पहले हुआ कांड

बेंजामिन को ब्रिटेन जाकर एक नौकरी ज्वॉइन करनी थी. अपने परिवार के साथ उन्हें यूके लौटना भी था, लेकिन सारा प्लान अब चौपट हो चुका है. उन्हें ये भी नहीं पता है कि वे अपने परिवार से कब मिल सकेंगे. हालांकि उन्हें अब भी लग रहा है कि बेहद छोटी सी चीज़ के लिए उन्हें ऐसी सज़ा दी जा रही है. सिंगापोर मे घर से बाहर निकलने पर मास्क (Mask is Mandatory) पहनना बेहद ज़रूरी है. ऐसे में जब बेंजामिन को लोगों ने कई बार इस तरह बिना मास्क के देखा तो उनका वीडियो बना लिया और आज वे इस मुसीबत में पड़ चुके हैं. अब हाल ये है कि केस प्रॉसेस होने और अगर सज़ा हुई तो उन्हें करीब डेढ़ साल सिंगापोर में गुजारने होंगे.





Source link


Share Now To Friends!!

Leave a Comment