घर में लगाएं ये खास औषधीय पौधे, कई बीमारियों से रहेंगे दूर

Share Now To Friends!!

Medicinal Plants At Home: कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश के लोगों को हिलाकर रख दिया है. इससे बचने के लिए लोग अपने घरों में बंद हैं. कोरोना की इस सुनामी को देखते हुए अनिवार्य रूप से ट्रिपल लेयर वाले मास्क पहनना, हाथों को बार-बार साबुन और हैंड सैनिटाइजर से साफ करना और सोशल डिस्टेंसिंग को अपनाना जरूरी हो गया है. इंफेक्शन से बचने के लिए इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग रखना बहुत जरूरी होता है. इस समय लोग अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए तरह तरह की चीजों का सेवन कर रहे हैं. हेल्थ से जुड़ी हर छोटी परेशानी के लिए कभी-कभी घरेलू नुस्खों को अपनाकर देखना चाहिए. इसी के चलते अगर हम अपने घरों में कुछ मेडिसिनल प्लांट लगा लेते हैं तो ये हमारी कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज साबित हो सकते हैं. कई प्रकार के पौधों और जड़ी-बूटियों में औषधीय गुण होते हैं. इसके अलावा दवाई की तरह इनका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता. हेल्थ को अच्छा बनाए रखने के लिए ये पौधे काफी अच्छे साबित हो सकते हैं. अगर आप प्राकृतिक तरीकों पर भरोसा रखते हैं, तो कुछ औषधीय पौधे हैं, जिनमें उपचार के अद्भुत गुण मौजूद हैं. इन पौधों का उपयोग प्राचीन समय से उनके गुणकारी गुणों के लिए किया जाता है. आइए जानते हैं कौन से हैं वो पौधे. इसे भी पढ़ेंः इन लक्षणों से जानें इम्यूनिटी कमजोर होने के बारे में, कोरोना से बचाव के लिए भी है जरूरी तुलसी (Tulsi)तुलसी का पौधा लगभग हर घर में होता है. तुलसी के पत्तों को खाने से न केवल इम्यूनिटी बढ़ती है बल्कि सर्दी-जुकाम और खांसी में भी राहत मिलती है. तुलसी की चाय पीने से पेट संबंधी परेशानियां भी दूर रहती हैं. कई बार छोटे मोटे घाव पर भी तुलसी की पत्तियों को पीसकर लगाने से जख्म भर जाता है. वहीं तुलसी के पत्तों को शहद के साथ खाने से कफ शरीर से बाहर निकलता है. तुलसी का पौधा घर में पॉजिटिविटी भरता है. चाय का पेड़ (Tea Tree) चाय के पेड़ से निकाला गया तेल स्किन के लिए बहुत अच्छा होता है. ये पिंपल्स, एथलीट फुट, छोटे घाव, ड्रैंड्रफ और कीड़े के काटने को ठीक कर सकते हैं. हालांकि इसे त्वचा पर लगाने से पहले एलर्जी की जांच कर लें. चाय के पेड़ का तेल हैंड सेनिटाइजर के रूप में भी अच्छा काम कर सकता है. यह कीट निवारक भी है. मामूली कट जाने पर और स्क्रैप के लिए यह एंटीसेप्टिक का काम कर सकता है.
लैवेंडर (Lavender) इस सुगंधित बैंगनी फूल के तेल में एंटीस्ट्रेस गुण होते हैं. यह संज्ञानात्मक क्षमता में भी सुधार करता है और आपको बेहतर नींद दिलाने में मदद करता है. यह तेल ब्लड प्रेशर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता है. इसके अलावा यह स्ट्रेस और तनाव को भी दूर करता है. कहते हैं कि इसे घर में लगाने से पॉजिटिविटी मिलती है. कैमोमिल (Chamomile) यह आपको चिंता, तनाव, अनिद्रा और कैंसर से निपटने में मदद कर सकता है लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले आपको एलर्जी टेस्ट कराना जरूरी होता है. कहते हैं कि ये हॉर्ट के लिए भी बहुत अच्छा होता है. हालांकि नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. ईवनिंग प्रिमरोज (Evening Primrose) इस फूल का तेल मल्टीपल स्केलेरोसिस के रोगियों के लिए अच्छा होता है. यह पीएमएस, त्वचा की स्थिति, मेनॉपोज, मधुमेह न्यूरोपैथी और ब्लड प्रेशर से निपटने में भी आपकी मदद कर सकता है. इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में ‘तुलसी काढ़ा’ करेगा कमाल, इम्यूनिटी से लेकर शूगर लेवल तक सब रहेगा कंट्रोल जिन्‍कगो बाइलोबा (Ginkgo Biloba) यह होम्योपैथी चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है. इनसे स्ट्रेस, सूजन, चिंता, अवसाद और आंखों की कई तरह की समस्याओं का इलाज किया जा सकता है. कहते हैं कि ये ब्लड शुगर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकते हैं और हड्डियों को तेजी से ठीक करने में मदद करते हैं. जिन्‍कगो बाइलोबा की न सिर्फ पत्तियां, बल्कि इसकी शाखा से लेकर जड़ तक हर एक चीज का इस्तेमाल किया जा सकता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Source link


Share Now To Friends!!

Leave a Comment