दावा: 5 हजार साल से लोगों पर नजर रख रहे हैं एलियंस, मजे से सुनते हैं FM स्टेशन

Share Now To Friends!!

नए शोध के अनुसार एलियंस हमें 5,000 वर्षों से देख रहे हैं और हमारे पुराने रेडियो शो भी सुन रहे हैं. वैज्ञानिकों ने फिरौन के समय से ही कम से कम 29 संभावित रहने योग्य ग्रहों की पहचान की है जहां से पृथ्वी पर नजर रखी जा सके. शोधकर्ताओं ने यूनिवर्स में ऐसे सौर मंडलों का नक्शा तैयार किया है, जहां एलियन्स के रहने की संभावना है. वह हमारी तरह दूरबीन की तकनीकों का प्रयोग कर पृथ्वी को देख सकते हैं. वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारी धरती से 326 लाइट ईयर के दायरे में कुल 2,034 तारे थे और कुछ को रेडियो सिग्नल भी मिल सकते थे.

अगले 5,000 साल में 319 ग्रहों पर रहने वालों को ट्रांजिट तकनीक के जरिए हमारी दुनिया की झलक पाने का मौका मिल सकता है. इनमें ट्रैपिस्ट-1 (Trappist-1) सिस्टम है. जो धरती से 45 लाइट ईयर की दूरी पर है और सात चट्टानी और पानी से भरे पृथ्वी के आकार के ग्रह हैं जिनमें से 4 संतुलित तापमान और रहने योग्य हैं. वह उस क्षेत्र में प्रवेश करेंगे जहां से वह हमें 1,642 वर्षों तक देख सकते हैं और 2,371 से अधिक सालों के लिए वहां रह सकते हैं.

न्यूयार्क में कॉर्नेल विश्वविद्यालय (Cornell University) की प्रोफेसर लीसा कल्टेनेगर (Lisa Kaltenegger) ने समझाया, “उनके दृष्टिकोण से हम एलियंस हैं.” उन्होंने आगे कहा कि हम यह जानना चाहते थे कि कौन से सितारों को पृथ्वी को देखने के लिए सही सुविधाजनक बिंदु है, क्योंकि यह सूर्य की रौशनी को अवरुद्ध करता है. तारे सक्रिय ब्रह्मांड में घूमते हैं इसलिए यह बिंदु खो जाता है.

प्रकृति का अध्ययन यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (European Space Agency) के गिया (GAIA) उपग्रह के आंकड़ों पर आधारित है, जिसने मिल्की वे का आंकलन किया है. 300 लाइट ईयर के भीतर के तारों की एक सूची की मदद से फिरौन के समय से उन जगहों की गिनती होने लगी है जहां से पृथ्वी को देखा जा सकता है. इनमें से 75 इनते पास हैं कि वहां हमारे 75 रेडियो स्टेशनों की आवाजें सुनाई देती होंगी जो लगभग एक सदी पहले प्रसारित होने लगे थे.

न्यूयार्क के अमेरिकन म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री के सह-लेखक डॉ. जैकी फाहर्टी (Dr Jackie Faherty) ने कहा, “गिया ने हमें आकाशगंगा का सटीक मानचित्र प्रदान किया है. इसने हमें समय में पीछे और आगे की ओर देखने का मौका दिया है और यह देखने की सहुलियत दी है कि तारे कहां स्थित हैं और वह कहां जा रहे हैं. ‘ हमारे सौर मंडल के पड़ोस में एक गतिशील स्थान है जहां सितारे प्रवेश करते हैं और बाहर निकलते हैं. यह देखने के लिए सही सुविधाजनक बिंदु है जहां पृथ्वी तेजी से सूरज को पारगमन करती है. दूर के बहिर्ग्रह पारगमन को देखकर या अपने सूर्य को पार कर खगोल विज्ञानी पिछले ग्रहों की व्याख्या कर सकते हैं.

Source link


Share Now To Friends!!

Leave a Comment