10 करोड़ साल बाद मां के गर्भनाल से अलग हुए बच्चे, 5 बच्चों को जन्म देते हुए हो गई थी मौत

Share Now To Friends!!

करोड़ों साल बाद पेड़ की छाल से निकाली गई मां- बच्चों की बॉडी

म्यांमार (Myanmar) में रिसर्चर्स (Researchers) को 99 मिलियन (99 Million) साल पुराना यानी करीब 9 करोड़ 90 लाख साल पुराना घोंघा (Snail) मिला है. घोंघे के पेट में बच्चा भी मिला है.

लाइव जन्म (Live Birth) के कई वीडियोज देखने को मिलते हैं. ये काफी इमोशनल होते हैं. ऐसे में अगर आपको करोड़ों साल पुराने जन्म के वीडियो को देखने का मौका मिले तो? हाल ही में म्यांमार के रिसर्चर्स ने करोड़ों साल पुराने घोंघे की डिलीवरी करवाई. इस मादा घोंघे की मौत बच्चे को जन्म देते समय हो गई थी. बच्चा अपनी मां की नाभि से जुड़ा हुआ ही रह गया. अब इतने करोड़ साल बाद साइंटिस्ट्स ने दोनों को अलग कर डिलीवरी की प्रक्रिया पूरी की. रिसर्चर्स ने दावा किया कि ये मादा घोंघा बच्चे को जन्म देते समय मर गई होगी. घोंघे की बॉडी इतने सालों तक पेड़ की छाल में छिपी थी.

मादा घोंघा अपने बच्चे के साथ पेड़ की छाल में 99 मिलियन साल से फंसी हुई थी. बच्चे को जन्म देने में मां इतनी तक गई कि वो मर गई. बच्चे मां की नाभि से अलग नहीं हो पाए. इस वजह से उनकी भी मौत हो गई. मां और बच्चों की बॉडी इसके बाद से पेड़ की छाल में ही अटक कर रह गई. अब करोड़ों साल बाद साइंटिस्ट के हाथ इनकी बॉडी लगी. इसे अब तक का सबसे पुराना जन्म का मामला माना जा रहा है, खासकर घोंघों के मामले में.

बेहद सुरक्षित था फॉसिल

रिसर्चर्स ने गोंडवाना रिसर्च (Gondwana Research) नाम के जर्नल में दिए इंटरव्यू में कहा कि ये अब तक के जन्म के मामलों का सबसे अनोखा मामला है. कभी भी किसी घोंघे के जन्म का ऐसा केस नहीं देखा गया. मां-बच्चों की बॉडी काफी सुरक्षित थी. दरअसल, ये एम्बर, यानी पेड़ की छाल के जम जाने के कारण उसके अंदर कैद होकर सुरक्षित रह गए थे. घोंघे के पेट से गर्भनाल जैसा म्यूकस उसके सारे बच्चों से जुड़ा हुआ ही था.मां को हो चुका था मौत का अहसास

फ्रैंकफर्ट के Senckenberg Research Institute and Natural History Museum के बायोलॉजिस्ट (Biologist) एड्रिएन जोचं (Adrienne Jochum) ने कहा कि घोंघे को अपनी मौत का अंदाजा हो गया था. इसके पीछे कारण था उसकी बॉडी के रेड अलर्ट पोस्चर में पाया जाना. ये पोस्चर घोंघे मौत के खतरे में बनाते हैं. लेकिन मां की तमाम कोशिशों के बाद भी उसके बच्चे बच नहीं पाए.

बेहद रेयर है ये फॉसिल

घोंघे का ये फॉसिल काफी रेयर है. एम्बर में ऐसे केमिकल्स होते हैं जो चीजों को प्रिजर्व करते हैं. आज तक घोंघे के फॉसिल कई बार मिले थे लेकिन इतने पुराने और उसपर भी प्रेग्नेंट घोंघे का फॉसिल रेयर है. इससे पहले जनवरी 2017 में भी एक कीड़े का फॉसिल एम्बर में मिला था. उसकी उम्र भी 10 करोड़ साल थी.





Source link


Share Now To Friends!!

Leave a Comment